Horror Story In Hindi । मां का प्यार । Hindi Story। Horror Story

दोस्तों Horror Story In Hindi की इस कहानी में आप मां के प्यार, ममता के बारे में पढ़ेंगे, हो सकता है यह बस एक कहानी है लेकिन मां का प्यार हमेशा इसका ही शक्तिशाली रहा है इस कहानी को पढ़े और बताए आपको यह कहानी कैसी लगी।🔥

Horror Story In Hindi । मां का प्यार Hindi Story ।  Horror Story


वैभव जो 26 साल का है उसकी अभी अभी नई शादी हुई है और उसकी एक खूबसूरत सी बीवी भी है। ये दोनों हनीमून मनाने हिमाचल चले गए जहाँ उन्होंने 4 दिन गुजारे। अब उनके दिल्ली अपने घर वापस आने का समय हो गया था। दोनों अपनी गाड़ी में बैठ गए और दिल्ली के लिए चल दिए।

रात के 11 बज गए थे अब वो हिमाचल की घाटी को पार करने ही वाले थे। रोड बिलकुल सुनसान थी और गाडी बिलकुल तेज़ी में जा रही थी अचानक वैभव को अपनी गाड़ी के आगे एक औरत दिखी जिसने लाल रंग की साड़ी पहनी थी। वो दूर से ही हाथ हिला कर गाड़ी को रोक रही थी।

उसको देख कर वैभव की बीवी ने उसे गाड़ी रोकने से मना कर दिया क्योंकि उसको डर था की ये कोई लूट पाट करने की चाल हो सकती है।

लेकिन वो औरत गाड़ी के सामने आ गई जिससे वैभव को गाडी़ रोकनी पड़ी। वो औरत जोर जोर से दरवाजे को पीटने लगी उसके चेहरे के हाव-भाव से ऐसा लग रहा था जैसे वो किसी बड़ी मुसीबत में हो।

Horror Story In Hindi । मां का प्यार Hindi Story ।  Horror Story

वैभव की बीवी ने उसे गाडी़ का दरवाजा खोलने से मना कर दिया उसने कहा कि ये कोई चाल हो सकती हैं। हमें बाहर नहीं जाना चाहिए, पर वैभव ने बोला की अगर सच में ये किसी मुसीबत में होगी तो और उसे हमारी जरुरत हो क्योंकि उसको देख कर वो अच्छे खासे घर की लग रही थी। ये बोलते ही वैभव ने गाडी का दरवाज़ा खोल दिया और बाहर आ गया।

 आप चाहे तो हमारी यह कहानियां भी पढ़ सकते हैं  :- 

वो औरत घबराते हुए बोली "प्लीज, मेरी मदद करो। वैभव ने बोला क्या हुआ है।उस औरत ने जवाब दिया की "मेरी गाड़ी नीचे खाई में गिर कर एक पेड़ से टकरा गई है और उसमें मेरी छोटी सी बच्ची फॅंसी हुई है। प्लीज उसको बाहर निकालो। 

Horror Story In Hindi । मां का प्यार Hindi Story ।  Horror Story


ये सुनते ही वैभव की बीवी भी बाहर आ गई और तीनों खाई के ओर भागे। उन्होंने देखा की वो गाडी थोड़ी नीचे एक पेड़ से टकराई हुई है। वैभव झट से नीचे की ओर गया। उसने देखा की पीछे वाली सीट पर एक बच्ची बैठी है

जो रो रही है। वैभव ने दरवाजा खोलना चाहा पर वो नहीं खुला। दरवाज़ा अटका हुआ था। उसने बहुत कोशिश की तब जा कर वो दरवाज़ा खुला। वैभव ने उस लड़की को बाहर निकाल कर अपनी गोदी में रख लिया।

पर लड़़की अभी भी रोए जा रही थी और मम्मी मम्मी कर रही थी। 

तभी वैभव की नज़र आगे वाली ड्राइविंग सीट पर गयी जहाँ उसे कोई बैठा हुआ लगा। लेकिन आगे वाली गाडी का शीशा धुंधला था तो साफ़ नज़र नहीं आ रहा था।

उसने अपने कपडे़ से उसे साफ किया और जो वैभव ने देखा उसे देख कर उसकी पैरो तले ज़मीन ही खिसक गई। उसको विश्वास ही नहीं हो रहा था।

उसने देखा की आगे वाली सीट पर और कोई नहीं उस बच्ची की माँ थी जो मदद के लिए वैभव को बुला रही थी। उसने देखा की वो औरत के माथे से खून निकल रहा है और उसकी मौत हो चुकी है।

वैभव की पत्नी ने वैभव की हालत देख कर झट से उसके पास आई और वो भी ये मंजर देख कर हैरान हो गयी ।ये देखते ही वैभव और उसकी पत्नी ने पीछे की और देखा जहाँ वो औरत खड़ी थी पर वहाँ अब कोई नहीं था।


दोस्तों ये कहानी आपको कैसी लगी हमें जरुर बताये और कहानी पढने के लिए आपका धन्यवाद्|

आप चाहे तो हमारी बहुत सी भुतिया कहानिया (Hindi Horror Story) पढ़ सकते है |

Post

आप चाहे तो हमारी बहुत सी भुतिया कहानिया (Horror Story In Hindi) पढ़ सकते है |

 आप चाहे तो हमारी यह कहानियां भी पढ़ सकते हैं  :- 

एक टिप्पणी भेजें

5 टिप्पणियाँ

कमेंट में जो आपका समय लगा उसके लिए धन्यवाद 🙏