Horror Trip – Bhutiya Story in Hindi

दोस्तों इस Bhutiya Story in Hindi में आप एक Horror Trip के बारे में पढ़ेंगे यह कहानी आपके रोंगटे खड़े कर देंगी यह कहानी कुछ बच्चों के स्कूल के दिनों की है | यह Bhutiya Story in Hindi ( Horror Trip ) आपको जरुर पसंद आएँगी |

Bhutiya Story in Hindi
Bhutiya Story in Hindi

Horror Trip – Bhutiya Story in Hindi का आरम्भ :

एक समय की बात है। एक लड़का होता है, जिसका नाम कुनाल होता है। वो 9th क्लास मे पढ़ता है। एक दिन उसके स्कूल मे मनाली घूमने का ट्रिप बनाया। सभी बच्चे उस ट्रिप के लिए तैयार हो गए थे। फिर वो सभी अगले दिन ट्रिप के लिए बस से रवाना हो जाते है। रास्ते मे सभी ने खूब एंजॉय किया। बस के अंदर अन्ताक्षरी भी खेली गई। हँसते खेलते हुए रास्ता का आनंद भी उठाया। फिर सबने अपने अपने टिफिन बॉक्स खोलकर खाना खाया। ऐसे करते करते सुबह से शाम हो गई।

फिर अचानक से बस से धुआँ निकलने लग गया। बस मे मौजूद सारे बच्चे डर गए। टीचर ने सभी बच्चो को संभाला और बोला – बच्चो डरो मत! कुछ नही हुआ बस थोड़ा इंजन खराब हो गया।
टीचर ड्राइवर को बोलती है – पास मे कोई होटल है तो वहाँ रोक देना। उसके बाद आप यह बस देखकर ठीक कर देना। सुबह हमे मनाली जाना है।

ड्राइवर एक ऐसे होटल पर रोकता है, जिसके चारों ओर बस घने पेड़ और पहाड़ थे। वो सभी उस होटल के अंदर चले जाते है। उसके बाद टीचर एक ग्रुप के हिसाब से सभी को उनका रूम दे देती हैं। कुनाल और उसके दो दोस्त निखिल और अमन को एक ही रूम देते हैं। कुनाल बहुत खुश होता है, क्युकी जिस दो लड़के के साथ रूम मिला था। वो उसके पक्के दोस्त थे। कुनाल के रूम मे खिड़की होती है, जिससे एक प्यारी सी झील दिखाई देती है। कुनाल अपने दोस्त को उस झील पर जाने को बोलता है। वो दोनों कुनाल की इस बात पर राजी हो जाते है।

वो तीनो अपने टीचर और होटल के वॉचमेन से बचकर होटल से बाहर निकल जाते है। उस झील के पास जाने के लिए एक घने जंगल से होकर जाना पड़ता था। वो तीनों उस जंगल की ओर चल देते है। उन तीनो को चलते चलते लगभग आधा घंटा हो गया। लेकिन उनको दूर दूर तक झील ही दिखाई नही दे रही थीं।रात मे ठण्ड भी बहुत तेज हो जाती है। ठण्ड के कारण तीनो ठिठुरन लग जाते हैं। कुनाल अपना फोन निकालकर चेक करने लगता है। पर उसका फोन no service बात रहा था।

यह भी जरुर पढ़े :-

फिर तीनो ने वापस लौटने का फैसला लिया। तीनो मुड़कर जिस रास्ते से आए थे उसी रास्ते पर जाने लगे। लेकिन अचानक से वहाँ से निखिल गायब हो जाता है। यह देखकर अमन और कुनाल डर जाते है। फिर अचानक से उन्हे एक डरावनी आवाज सुनाई देती है। उन दोनों ने हिम्मत करके उस आवाज का पीछा किया। फिर उन्हे एक लड़का दिखाई देता है। वो दोनों झाड़ियों के पीछे चुपकर उस लड़के को देख रहे थें। जो जंगल के बीच एक गठ्ठा खोद रहा था। वो दोनों उस लड़के के थोड़े करीब जाकर देखने लगे।

जैसे ही उसके करीब गए तो, देखा तो वो निखिल था। जो गठ्ठा खोद रहा था। अमन उसके पास गया उसके कंधे पर हाथ रखकर बोला – निखिल यह तुम क्या कर रहे हो?

निखिल पीछे मुड़कर देखा। जैसे ही वो पीछे मुडा अमन और कुनाल उसको देखकर आश्चर्य चकित हो जाते है। उसकी आँखे एकदम काली थी। ऐसा लग रहा था कि किसी ने उसकी आँखे अंदर से नोच ली हो।

निखिल उन दोनों को देखकर जोर से चिल्लाता है, और अमन को जोर से धक्का मारकर फेक देता है। कुनाल अमन के पास जाता है। उसे उठाने की कोशिश करता है। पर वो वही पर बेहोश हो जाता है। वही दूसरी ओर निखिल भी बेहोश हो जाता है।

Horror Trip – Bhutiya Story in Hindi का मध्य :

ऐसे ही मजेदार कहानियां अगर आप instagram पर पढना चाहते है

तो आप हमारे instagram पेज @Sirf_Horror को Follow कर सकते है |

निखिल बेहोशी की हालत मे बोलता है – वो आत्मा अब अमन के शरीर मे घुस गई है। कुनाल फिर अमन के सामने देखता है, अमन के आँखे भी निखिल के जैसी हो रखी थी। चेहरा एकदम काला, आँखे भी एकदम काली। अमन वहाँ से उठकर जंगल की ओर भाग जाता है।

उसको भागते देख कुनाल और निखिल भी उसके पीछे भागने लगे। अमन भागकर एक खंडहर से मकान मे घुस गया। कुनाल और निखिल उस मकान को देखकर डर जाते है। ऐसा लग रहा था कि मानो सालों से किसी भी इंसान ने यहाँ कदम भी नही रखा। उन दोनों की तो हिम्मत भी नही हो रही थी अंदर जाने की। पर उनका दोस्त उस मकान के अंदर गया हुआ था। इसलिए वो दोनों अपने दोस्त को लाने के लिए उस मकान के अंदर चले जाते है।

यह भी जरुर पढ़े :-

तभी उस मकान के पहली मंजिल से एक डरावनी आवाज आई। कुनाल और निखिल हिम्मत करके उस पहली मंजिल पर चले जाते है। जैसे ही वहाँ वो पहुँचते है, तो उनका दोस्त अमन बेहोशी की हालत मे हवा मे लटका हुआ था। और उसके पास एक बूढ़ी औरत खड़ी थी। जिसकी चमड़ी लटकी हुई और सफेद बाल बिखरे हुए और उसकी आँखे एकदम काली थी। उस बूढ़ी औरत को देखकर निखिल और अमन डर के मारे घर से बाहर भागने लगते है।

भागते भागते वो झील के अंदर गिर जाते है। यह वही झील थी उसको देखने के लिए तीनों दोस्त होटल के बाहर आए थे। निखिल और कुनाल उस झील मे डूबने लग गए। ऐसा लग रहा था, कोई उन्हे झील के अंदर खीच रहा है। कैसे भी करके कुनाल झील से बाहर निकल जाता है। पर उसका दोस्त निखिल उस झील के अंदर डूब जाता हैं। यह सब देखकर कुनाल वही बेहोश होकर गिर जाता है।

जैसे ही वो उठता है तो एक बिस्तर पर खुदको लेटा हुआ पाता है। और सुबह भी हो रखी थी। वो उस बिस्तर से उठकर बाहर जाता है तो देखता है, सारे स्टूडेंट और टीचर एक घेरा बनाए हुए खड़े थे। जैसे ही कुनाल उस लोगों के पास जाता है और फिर देखता है कि एक सफेद रंग की चादर से लिपटे हुई दो लाशे जमीन पर पड़ी हुई थी। उनके पास पुलिस भी खड़ी थी। वो दो लाशे किसी और की नही, बल्कि उसकी दोस्त अमन और निखिल की थी। यह देखकर कुनाल बहुत रोता है।

यह भी जरुर पढ़े :- Bhutiya Story in Hindi ( Horror Trip )

पुलिस का मानना है यह एक मर्डर है। पर होटल के आस पास रहने वाले लोगो का मानना था कि यह सब उस बूढ़ी आत्मा का काम था। जो बहुत साल पहले इस जंगल मे एक बड़े घर मे अकेली रहती थी। गाव के बड़े बड़े जमींदारों की नजर उस बूढ़ी औरत के घर पर थी। उन जमींदारों ने इस औरत को बहुत बार मनाने की कोशिश की। यह घर हमें देदे। पर वो बूढ़ी औरत अपना घर किसी को भी देना नही चाहती थी।

जमींदारों को उस बूढ़ी औरत पर बहुत ग़ुस्सा आया, उन्होंने फिर उस बूढ़ी औरत को मार दिया। फिर उसकी लाश को उस जंगल मे एक झील के अंदर फेक दिया। तब से वो उन लोगो को नही छोड़ती, जो रात को उस झील के पास जाते है या फिर उस घर के अंदर जाते। वो अपना बदला लेती है।

यह सब सुनकर कुनाल को बहुत अफसोस होता है। वो सोचने लगता है काश उसे यह सब पहले पता होता, तो कभी उस झील के पास जाने की बात नही करता। न ही अपने दोस्तो को बोलता।

वो सभी ट्रिप को कैंसल करके अपने अपने घर लौट जाते है।

Horror Trip – Bhutiya Story in Hindi का समापन :

उम्मीद करता हूँ की दोस्तों आपको Bhutiya Story in Hindi ( Horror Trip ) जरुर पसंद आई होंगी यह Bhutiya Story in Hindi ( Horror Trip ) कहानी हमारे स्कूल के दिनों की यादों को ताज़ा करती है तो दोस्तों जल्द ही मिलते है हमारी अगली कहानी में |

आप चाहे तो हमारी यह Bhutiya Story in Hindi में पढ़ सकते हैं  :-

आवश्यक सुचना :- दोस्तों Bhutiya Story in Hindi ( Horror Trip ) की यह कहानी पूरी तरह काल्पनिक है यह Bhutiya Story in Hindi ( Horror Trip ) कहानी किसी भी अन्धविश्वास को बड़ावा देने के लिए नही लिखी गयी है इन्हें सिर्फ मनोरंजन के उद्देश्य से लिखा गया है |

Leave a Comment