Horror Story in Hindi। 1 मौत से बुरा “अभिशाप”। Part 2 | Hindi Horror Story

अभिशाप पार्ट = 2 ( Horror Story in Hindi )

Horror Story in Hindi “अभिशाप” के पहले भाग में आप सभी ने शैलेंद्र के बारे पूरी जानकारी पढ़ी थी इस भाग में आप हमारी इस कहानी के दूसरे मुख्य किरदार जिसे अपना नाम भी याद नही है इसके पीछे की कहानी पढ़ेंगे, की वो कैसे अपनी जिंदगी की हर चीज भूल गया बस उसे अपनी जिंदगी के पाप याद है उसे हम इस कहानी में “तेज” नाम से बुलाएंगे और ये पूरा भाग उसी की कहानी होंगा। उम्मीद करता हूं यह भाग भी आपको पिछले भाग की तरह पसंद आयेगा 🙏 

Horror Story in Hindi। अभिशाप । Bhutiya Story Part 2

 

दोस्तों यह कहानी बहुत बड़ी और मजेदार होने वाली है क्योंकि मैंने इस 200 पेज के हिसाब से लिखा था लेकिन अब में इसे Blog के हिसाब से जितना Short हो सके उस हिसाब से लिख रहा था ताकि इसे जल्द से जल्द आपके लिए ला सकूं और आप मेरी आने वाली Horror कहानियां भी Full Enjoy कर सके। 🔥

धन्यवाद=> तो पिछले भाग को पास सब ने बहुत प्यार दिया, सच में दिल से शुक्रिया, मैं बस कहानी लिखता हूं लेकिन आप सभी उसे पढ़ कर पूरा करते है अपना अमूल्य समय देते है । एक कहानी लिखने वाले के लिए इससे ज्यादा बड़ा उपहार और कुछ नही हो सकता। धन्यवाद🙏 बिना समय गवाएं आगे की कहानी शुरू करते है। बस आप एक कमेंट जरुर कीजियेंगा 🙏

परिचय => ” दूर किसी नरक जैसी जगह पर: कोई कुछ बोलता है ” 

शैतान अपने सभी गुलामों को आदेश देता है जाओ और मेरे लिए 5 आत्माएं लेकर आओ। (पिछले भाग से ही) 

सभी जाने लगते है लेकिन इंसानी दुनियां में जाने से पहले इन्हें शैतान के लिए काम कर रहे लोगों से आज्ञा लेनी पड़ती है। यह सभी(शैतान के कर्मचारी) शर्त लगाते है की इस बार कौनसा गुलाम सबसे पहले आत्माएं लेकर आयेगा, नियमों के कारण यह काम हमेशा मुश्किल हो जाता है ।

Horror Story in Hindi। hindi horror story
Horror Story in Hindi। hindi horror story

तभी कुछ लोग “तेज” के बारे में बात कर रहे होते है

इन्ही गुलामों में से एक है “तेज”। “तेज” यह उसका असली नाम नही है बस उसे जब भी कोई उसका नाम पूछता है तो वो “तेज” ही बोलता है क्योंकि नाम के नाम पर उसे बस इतना ही याद है बाकी इसे जो भी याद है वो सब इसके वो पाप है जो इसने अपने इंसानी रूप में किए थे। जब यह एक इंसान था तब यह एक खूंखार डाकू था। इसने अपनी जिंदगी में सैकड़ों लोगों को लूटा उन्हें मारा है ये मारते समय न बच्चें देखता ना बूढ़े और ना ही जवान। साथ ही इसने अपने पूरे जीवनकाल में 2 दर्जन से ज्यादा लड़कियों और महिलाओं का बलात्कार भी किया है। कहते है इसने बच्चियों को भी नहीं छोड़ा था। लोग इसके नाम से कांपते थे लेकिन आज इसे अपना वही नाम याद नही है ये भी अपने पापों का हर्जाना भुगत रहा है और जिंदगी के अंतिम समय में इसने दर्दनाक मौत से बचने के लिए शैतान से अपनी आत्मा का सौदा किया था। तब ये दर्दनाक मौत से तो बच गया लेकिन अब ये यहां हमारे मालिक (शैतान ) की गुलामी में लगा है। मेरे हिसाब से तो यहीं सबसे पहले आत्माएं लाएंगे जहां सबको 50 से 100 दिन लगेंगे ये 30 दिन में सारी आत्माएं लेकर आ जायेगा और इसने आज तक एक भी नियम भी तोड़ा है। 

सिर्फ 30 दिन में? (आपस में बात करने वालों में से एक ने सवाल किया!)

हां सिर्फ 30 दिन। (तेज के बारे में बोलने वाले ने जवाब दिया)

मुझे अगर इसके बारे में सब कुछ जानना हों तो कैसे जान सकता हूं? (एक ने सवाल किया)

तुम सभी ने इस नरक में उस अंधे को तो देखा ही होंगा जो यहां आने वाले हर एक की आत्मा परखता है उससे जाकर पूछों उसे “तेज” के बारे में सब कुछ पता होंगा। की तेज ने क्या किया , क्यों वो इस जगह पर है, क्यों तेज ने शैतान से सौदा किया, उसकी मौत कैसे होने वाली थी सारी की सारी जानकारी तुम्हें वही से मिलेंगी।

इनमें से जिन्हे जिन्हें तेज का बारे में जानना होता है वो उस अंधे के पास जाने लगते है।

“अंधा आदमी यह भी अपने पापों की सजा भुगत रहा है इसके पास सिर्फ गर्दन है और इसका बाकी का शरीर मानों जैसे पत्थर का हो, ये बिल्कुल भी चल फिर नही सकता। इसके शरीर से हजारों मरे हुए चूहों की बदबू आ रही है और इसके पत्थर जैसे शरीर में जगह जगह से गंदगी निकल रही है। यही है वो अंधा, इसे आदमी नही बोल सकते, ना ही शैतान। यह तो बस एक पापी आत्मा से जो इस नरक जैसी जगह पर फसी हुई है। यहां हर कोई उस शैतान का गुलाम है हर एक कभी न कभी इंसान था और अपने पापों के कारण वो यहा फंसा हुआ है यहां हर किसी ने इस शैतान के साथ अपनी आत्मा का सौदा किया है यह भी उन्ही में से एक है”

सभी इस अंधे के पास आते है।

आते ही सभी बदबू के कारण अपनी नाक बंद कर देते है। तभी एक जना आगे आकर “तेज” के बारे में सारी जानकारी के लिए पूछता है। तभी अंधा सभी के सामने हंसने लगता है। 

उनमें से एक सवाल करता है तुम हंस क्यों रहे हो। 

अंधा: ओह क्या बात है तुम सभी को उसके बारे में जानना है क्या बात है ऐसा लगता है जैसे कल ही की बात हो उसे जब वो यहां आया था। वैसे जब उसने शैतान से सौदा किया तब में 34 साल का था राजा ने उसे तड़प तड़प कर मरने के लिए छोड़ दिया था लेकिन जो जो इसने अपनी जिंदगी में किया उसके सामने तो हर सजा बेकार थी यहीं नरक उसकी सही सजा है। 

देखो में तुम्हे उसके बारे में सब कुछ बता दूंगा लेकिन इससे मेरा क्या फायदा, ये बताओ? हंसते हुए बोला

तुम बताओ तुम्हें क्या चाहिए हमारी शक्ति में हुआ तो हम जरूर पूरा करेंगे।

अंधा: पिछले सैकड़ों सालों से में यहीं इसी जगह पर पड़ा हूं तुम सभी मुझे उठाओ और थोड़ा आसपास घुमाओं और मैं जहां कहूं मुझे बिठा दो।

सभी ने कहा ठीक है इसमें कौन सी बड़ी बात है लेकिन उनमें से कुछ बदबू और गंदगी के कारण इसे छूना भी नहीं चाहते थे तभी एक ने कहां हमें बस इसे उठाना है और किसी ओर जगह पर रखना है अब कुछ जानना है तो इतना तो करना ही होंगा।

सभी ने मिलकर इस उठाया इसका वजन मानो तो एक पहाड़ के बराबर था लगता है इसने भी अपनी जिंदगी में काफी पाप किए है।

तभी एक बोला की बताओ तुम्हें कहा उतारना है।

Horror Story in Hindi। hindi horror story
Horror Story in Hindi। hindi horror story

 

वो उस दरवाजे के पास मुझे नीचे रख दो अब मैं यही पर बैठा रहूंगा। अंधे ने कहा!!

सभी ने ऐसा ही किया और उसे वहां रख दिया। 

सभी अपने हाथों से गंदगी को साफ करते हुए पूछते है अब बताओ क्या है उसकी कहानी?

अंधा हंसते हुए बोलता हैं तेज की कहानी हा जरूर, जरूर सुनाता हूं उससे पहले यह जान लो उसका नाम तेज नही आदर्श है।

यहां हजारों पापी है जिनमें हमारे मालिक (शैतान) सबसे बड़े पापी होंगे यकीनन लेकिन आदर्श वो भी यहां किसी से कम नही है उसने भी अपनी पूरी जिंदगी में ऐसे–ऐसे पाप किए है की कोई सोच भी नही सकता। जब वो 12 साल का था तब उसने पूरे एक परिवार को जिंदा जला दिया था उस परिवार में कुल 13 सदस्य थे जिसमे से सिर्फ 2 उसके दोषी थे लेकिन गुस्से में आकर उसने सभी को जिंदा जला दिया जिसमे 3 महीने की एक बच्ची, 4 साल का एक लड़का और एक गर्भवती महिला भी शामिल थी।

आदर्श की कहानी की शुरुआत आज से लगभग 500 साल पहले हुई थी।….और इसकी कहानी का अंत एक 16 साल की लड़की ने अपनी इज्जत और जान गवां कर किया था।

अब तक आपको कहानी कैसी लगी एक कमेंट करके जरूर बताएं 🙏यह बिल्कुल फ्री है। 


अभिशाप पार्ट = 2 ( Horror Story in Hindi ) समाप्त 

दोस्तों अभी तक की कहानी आपको कैसी लगी उम्मीद करता हूं अच्छी ही लगी होंगी। यह बिल्कुल फ्री है

यह कहानी कुछ पार्ट में पूरी होंगी अभी तो कहानी की शुरुआत हुई है इस कहानी की आगे की अपडेट आपको मेरे इंस्टाग्राम पर मिलते रहेंगे और रोजाना ऐसी Horror Story In Hindi पढ़ने के लिए आप हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो कर सकते है वहा हम रोजाना Horror Post अपलोड करते है मिलते है अभिशाप के अगले पार्ट में🙏 आप चाहें तो मुझे इंस्टाग्राम पर Follow कर सकते है।

इंस्टाग्राम=> Instagram 

  1. अभिशाप पार्ट = 1 ( Horror Story in Hindi )

 

 

0 thoughts on “Horror Story in Hindi। 1 मौत से बुरा “अभिशाप”। Part 2 | Hindi Horror Story”

Leave a Comment